विभिन्न क्रियाकलापों को आम जनों के बीच किया गया प्रदर्शित: विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम की वर्षगांठ पर लगी प्रदर्शनी

गिरिडीह4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
मौके पर मौजूद पीडीजे व अन्य। - Dainik Bhaskar

मौके पर मौजूद पीडीजे व अन्य।

राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार गिरिडीह की ओर से व्यवहार न्यायालय परिसर में प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी का शुभारंभ प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष डीएलएसए वीणा मिश्रा एवं सचिव सौरव कुमार गौतम ने संयुक्त रूप से किया। विधिक सेवाओं से संबंधित विभिन्न क्रियाकलापों को आम जनों के बीच प्रदर्शित किया गया।

साथ ही आम जनों के बीच नालसा व झालसा द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों एवं विधिक जागरूकता से संबंधित पंपलेट एवं पुस्तकों का वितरण आमजनों एवं आगंतुकों के बीच किया गया। प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश वीणा मिश्रा ने कहा कि आज ही के दिन विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 के जरिए आम लोगों के लिए निःशुल्क न्याय प्रदान करने का कार्य सर्वोच्च न्यायालय एवं भारत की संसद ने किया था।

केंद्रीय कारा में जागरूकता कार्यक्रम चलाया
इसी कड़ी में बुधवार को सचिव सौरव कुमार गौतम के द्वारा केंद्रीय कारागार, गिरिडीह में बंदियों के बीच जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करते हुए उनकी समस्याओं को सुना गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकार गिरिडीह के द्वारा काराधीन बंदियों के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों एवं विधिक सहायता के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान किया गया। इस दिवस के मौके पर अलग-अलग प्रखंडों में एवं गिरिडीह शहरी क्षेत्र में आउटरीच कार्यक्रम के माध्यम से आम जनों के बीच प्रचार-प्रसार करने वाले टीम के द्वारा भी राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम किए गए।

अधिक से अधिक मामला निबटाएं बीमा कंपनी
कहा कि 12 नवंबर 2022 को वृहत स्तर पर राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन व्यवहार न्यायालय परिसर गिरिडीह में किया जाना है। इसकी सफलता के लिए न्यायिक पदाधिकारियों, कार्यपालिका पदाधिकारियों, बैंक के पदाधिकारियों, पैनल अधिवक्ताओं, पारा लीगल वॉलिंटियर्स इत्यादि के साथ कई दौर की मीटिंग हो चुकी है। इसी कड़ी में बुधवार को इंश्योरेंस एवं क्लेम के पदाधिकारियों तथा मोटर वाहन दुर्घटना वाद के जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीशों के साथ एक बैठक का आयोजन किया गया।

जिसमें बीमा कंपनियों के शाखा प्रबंधकों को निर्देश दिया गया कि इस आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक मामलों का निष्पादन करने में सहयोग करें, ताकि आम लोगों को इस राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से त्वरित, सुलभ एवं निःशुल्क न्याय प्रदान किया जा सके। बैठक में प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश वीणा मिश्रा, जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश प्रथम गोपाल पांडेय, आनंद प्रकाश, एसएन सिकदर, पीयूष श्रीवास्तव, नीरजा आश्री एवं सचिव सौरव कुमार गौतम सहित विभिन्न इंश्योरेंस कंपनी के शाखा प्रबंधक उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp