पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी की जयंती मनाई गई: दृढ़संकल्प की साक्षात मूर्ति थी इंदिरा गांधी : अवधेश सिंह

हजारीबाग42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जिला कांग्रेस कार्यालय कृष्ण बल्लभ आश्रम में पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी की जयंती उनके चित्र पर पुष्प व माल्यार्पण कर सद्भावना दिवस के रूप में मनाई गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह ने किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी दृढ़संकल्प की साक्षात मूर्ति थी। नेहरू परिवार को देशभक्ति की घूंटी मानो बचपन से ही पिलाई गई है।

कहा मोतीलाल लाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू के बाद इंदिरा गांधी ने देश को सुदृढ नेतृत्व दिया। पिता के साथ रहकर राजनीति की बारीकियां तो आत्मसात की ही साथ ही अंतरराष्ट्रीय संबंधों को भी बखूबी समझकर उनका समुचित उपयोग किया। कांग्रेस संगठन पर अपना कड़ा नियंत्रण ही उन्होंने नहीं रखा अपितु शासन के साथ-साथ संगठन की धुरा भी संभालकर एकरस जीवन का अनुभव देश को कराया।

पति एवं पुत्र का वियोग सहन करना पड़ा पर उन्होंने धैर्य नहीं खोते हुए वे अपने चुने हुए मार्ग पर बढ़ती रही। अपने लक्ष्य की पूर्ति के लिए किसी से समझौता नहीं किया। सन् 1971 में बंगाल देश के निर्माण में इनका सक्रिय योगदान रहा। महिला होते हुए भी दुर्गा देवी सी क्षमता और शक्ति का परिचय इस कुशल राजनीतिज्ञ के जीवन ने स्वाधीनता के वर्षों में प्रत्यक्ष कराया। निर्गुट देशों के संगठन व विश्वशांति के लिए उनके प्रयासों को हमेशा सदा याद किया जाएगा।

मौके पर 20 सूत्री कार्यक्रम के जिला उपाध्यक्ष जवाहरलाल सिन्हा, जोनल कोऑर्डिनेटर भीम कुमार, कार्यकारिणी के सदस्य अदिब रिजवी, वीरेंद्र सिंह, शशि मोहन सिंह, शैलेन्द्र यादव ,उपाध्यक्ष सह प्रवक्ता निसार खान, लाल बिहारी सिंह, मिथिलेश दुबे, बिनोद सिंह, सरयू यादव, सुनिल सिंह राठौर, नरेश गुप्ता, मनोज नारायण भगत, मकसूद आलम, मंसूर आलम, केडी सिंह, ललितेश्वर प्रसाद चौधरी, तारिक रजा, सलीम रजा, बेबी देवी, सुनील ओझा, संजय तिवारी, दिलीप कुमार रवि सहित कई कांग्रेसी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp