निर्देश: जिला बीस सूत्री कार्यान्वयन समिति की पहली बैठक समाहरणालय में हुई, कई विभागों के कार्यों पर की गई चर्चा

  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Simdega
  • The First Meeting Of The District Twenty Point Implementation Committee Was Held In The Collectorate, Discussions Were Held On The Works Of Many Departments

सिमडेगा37 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • जानमाल के नुकसान का मुआवजा तुरंत दें : डॉ. रामेश्वर उरांव

जिला बीस सूत्री कार्यान्वयन समिति की पहली बैठक साेमवार काे समाहरणालय में हुई। वित्त, योजना एवं विकास, वाणिज्यकर विभाग तथा खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले विभाग के मंत्री रामेश्वर उरांव की अध्यक्षता में अायाेजित बैठक में जिले में संचालित विकास याेजनाओं की समीक्षा की गई। 20 सूत्री कार्यान्वयन समिति के अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने आयोजित जिला स्तरीय बैठक में जिला अंतर्गत संचालित विकास योजनाओं से संबंधित प्रगति एवं लंबित भुगतान व कार्य योजनाओं की विभागवार विस्तृत समीक्षा की।

उन्होंने याेजनाअाें की समीक्षा करते हुए सही लाभुकाें काे याेजनाअाें का निर्देश दिए। बैठक में जंगली हाथियाें के द्वारा मचाए गए उत्पात का मुद्दा उठाया गया। इस पर मंत्री ने कहा कि ग्रामीणाें की सुरक्षा काे ध्यान में रखें। जानमाल में नुकसान ना हाे। प्रभाविताें काे समय से मुअावजा का भुगतान करें। अधिकारियाें से कहा गया कि जनप्रतिनिधियाें के साथ अापसी समन्वय बनाते हुए जनता की उम्मीदाें काे पूरा करना है। कृषि विभाग की समीक्षा में क्रम में याेजनाअाें का लाभ किसानाें काे दें। सिमडेगा जिला काे सूखाग्रस्त घाेषित नहीं किए जाने के बारे में जानकारी ली। धान अधिप्राप्ति समय से शुरू करने का निर्देश दिया।

लंबित योजनाओं और लंबित भुगतान का ससमय निष्पादन पर दिया गया जोर
बैठक में ग्रामीण विकास विभाग, ग्रामीण विकास, ग्रामीण कार्य, पंचायती राज एवं एनआरईपी, कृषि, पशुपालन, मत्स्य, सहकारिता, नगर विकास एवं आवास विभाग, भवन निर्माण, वन एवं पर्यावरण एवं जलवायु परिर्वतन विभाग, ऊर्जा, खाद्य, आपूर्ति विभाग, राजस्व, पथ निर्माण, अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, महिला, बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता, पेयजल एवं स्वच्छता, जल संसाधन, लघु सिंचाई, श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण, पर्यटन, कला-संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य, उद्योग, खान एवं भूतत्व, परिवहन, उत्पाद एवं मद्य निषेध, स्वास्थ्य चिकित्सा एवं परिवार कल्याण, ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल एवं भू-अर्जन से संबंधित कार्य योजनाओं की समीक्षा करते हुए संबंधित पदाधिकारियों को धरातल पर योजनाओं का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।

साथ ही लंबित योजनाओं एवं लंबित भुगतान से संबंधित मामलों को जनप्रतिनिधियों से तालमेल स्थापित करते ससमय निष्पादन सुनिश्चित कराने की दिशा में निर्देश दिए। इससे पूर्व मंत्री का स्वागत डीसी ने किया।  बैठक में विधायक भूषण बाड़ा,विधायक कोलेबिरा नमन विक्सल कोंगाडी, उप विकास आयुक्त अरूण वाल्टर संगा, आईटीडीए निदेशक सलन भुईयां, अपर समाहर्ता, वन प्रमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी, 20 सूत्री के उपाध्यक्ष एवं सदस्यगण सहित जिला स्तरीय सभी पदाधिकारी व अन्य उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp