दुर्लभ पक्षी- लेसर वाइट फ्रंटिड गूज: झारखंड में पहली बार दिखा दुर्लभ साइबेरियन ‘लेसर वाइट फ्रंटिड गूज’ पक्षी, देश में 328 बार देखा गया

  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Rare Siberian ‘Lesser White Fronted Goose’ Bird Seen For The First Time In Jharkhand, Seen 328 Times In The Country

हजारीबाग8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
लेसर वाइट फ्रंटिड गूज - Dainik Bhaskar

लेसर वाइट फ्रंटिड गूज

हजारीबाग के छड़वा डैम में दुर्लभ और साइबेरिया की मूल निवासी एबेहद खूबसूरत चिड़िया ‘लेसर वाइट फ्रंटिड गूज’ दिखाई दी। बर्डवाचर अमित जैन ने इसकी तस्वीर 18 और 19 नवंबर को ली है। अपने मूल निवास से झारखंड आने में पक्षियों ने लगभग 11000 किमी की दूरी तय की है।

चिड़ियों को देखने के बाद उसकी सूचना डालने के इंटरनेट प्लेटफार्म ई बर्ड के अनुसार अबतक लेसर वाइट फ्रंटिड गूज झारखंड-बिहार में पहली बार देखी गई है। अभी तक देश में बर्ड वाचर्स ने मात्र 328 बार इसे देखा है।

असम-उड़ीसा से इसकी रिपोर्टिंग की गई है, लेकिन बिहार-झारखंड से कोई रिपोर्ट नहीं है। इंडियन बर्ड कंजर्वेशन नेटवर्क क स्टेट कोऑर्डिनेटर झारखंड डॉ सत्य प्रकाश ने गूज की तस्वीर देखकर पुष्टि की है।

पहचान… चॉकलेट ब्राउन कलर और गुलाबी चोंच

लेसर वाइट फ्रंटिड गूज को आप भी देखेंगे तो मन प्रफुल्लता से भर जाएगा। रंग डार्क चॉकलेट ब्राउन, माथा दमकता सफेद और चोंच एकदम बबलगम पिंक। पैर नारंगी और किनारे पर एक सफेद रेखा के चारों तरफ दिखता है। पानी में यह पक्षी हमेशा ग्रेलैग गीज और बार हेडेड गीज के साथ दिखते हैं। प्रवास में जलाशय के वैसे गीले किनारे जहां घास होते हैं, उनमें ये समय बिताते हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp