झारखंड कैबिनेट: ट्रेनिंग के तीन महीने के भीतर रोजगार नहीं तो युवाओं को मिलेगा 1000 रु. बेरोजगारी भत्ता

रांची38 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
झारखंड सरकार ने गुरुवार काे युवाओं और बेरोजगारों के लिए खजाना खोल दिया। - Dainik Bhaskar

झारखंड सरकार ने गुरुवार काे युवाओं और बेरोजगारों के लिए खजाना खोल दिया।

झारखंड सरकार ने गुरुवार काे युवाओं और बेरोजगारों के लिए खजाना खोल दिया। पढ़ाई से लेकर रोजगार तक की चार योजनाओं पर कैबिनेट ने मुहर लगाई। ये चारों योजनाएं झारखंड स्थापना दिवस पर 15 नवंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू लॉन्च करेंगी। इन योजनाओं के तहत युवाओं को फ्री कोचिंग, ट्रेनिंग और पढ़ाई के लिए क्रेडिट कार्ड तो दिए ही जाएंगे, ट्रेनिंग के बाद अगर तीन महीने के भीतर उन्हें रोजगार नहीं मिला तो भत्ता भी मिलेगा।

एक साल तक छात्रों को प्रतिमाह 1000 और छात्राओं व दिव्यांगों को 1500 रुपए भत्ते दिए जाएंगे। नीट पीजी द्वारा चयनित झारखंड के छात्रों को राज्य के मेडिकल कॉलेजों में राज्य कोटे से पीजी में दाखिले की छूट दे दी है, जिन्होंने दूसरे राज्यों से एमबीबीएस का कोर्स किया है। पहले दूसरे राज्यों से एमबीबीएस का कोर्स करने वाले स्थानीय निवासियों को यह छूट नहीं थी।

जानिए… इन योजनाओं से युवाओं को क्या-क्या लाभ होंगे

मुख्यमंत्री सारथी योजना – कार्पेंटर, राज मिस्त्री की भी ट्रेनिंग दी जाएगी
सरकार मुख्यमंत्री सारथी योजना शुरू कर रही है। श्रम विभाग की इस योजना में स्किल मिशन के तहत युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस योजना के तहत प्रशिक्षण लेने वालों को अगर तीन महीने के भीतर रोजगार नहीं मिला तो छात्रों को प्रतिमाह 1000 रुपए और छात्राओं व दिव्यांगों को 1500 रुपए भत्ता मिलेगा। यह भत्ता अधिकतम एक साल के लिए होगा।

  • गैर आवासीय प्रशिक्षणार्थियों को परिवहन भत्ता भी दिया जाएगा। यह योजना जिला से लेकर प्रखंड स्तर तक लागू की जा रही है।

गुरुजी क्रेडिट कार्ड – स्टूडेंट्स को 15 लाख रु. तक मिलेंगे, 15 साल में चुकाने होंगे
गुरुजी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत सरकार इंजीनियरिंग, मेडिकल, लॉ, रिसर्च, आईआईटी, आईआईएम में पढाई के लिए 15 लाख रुपए तक ऋण देगी। ऋण की राशि 15 साल के भीतर चुकानी होगा। इस पर उन्हें चार फीसदी ब्याज देना होगा। पढ़ाई पूरी होने के एक साल बाद उन्हें ईएमआई का भुगतान करना होगा। छात्रों से ऋण के लिए बैंकों की ओर से प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाएगी।

  • छात्र ऋण की राशि का 70% कॉलेज फीस के रूप में और 30 फीसदी राशि रहने, खाने और पाठ्यपुस्तकों पर खर्च कर सकेंगे।

एकलव्य प्रशिक्षण योजना- फ्री कोचिंग के साथ हर महीने मिलेंगे 2500 रुपए
यूपीएससी, जेपीएससी, बैंक, रेलवे और एसएससी के लिए फ्री कोचिंग कराएगी। इस दौरान उन्हें हर महीने 2500 रुपए दिए जाएंगे। यह योजना भी अगले वित्तीय वर्ष से शुरू होगी। इसके लिए पहले वर्ष यूपीएससी के लिए 1000, जेपीएससी के लिए 2000, बैंक पीओ के लिए 2000, बैंक क्लर्क के 5000, रेलवे के लिए 8500 और एसएससी के लिए 8500 छात्रों को कोचिंग दी जाएगी।

  • जिनका परिवार आयकर के दायरे में नहीं आते, उन्हें ही इसका लाभ मिलेगा। चयन में आरक्षण नियमों का पालन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री शिक्षा प्रोत्साहन योजना – 7 तरह के कोर्स की फ्री कोचिंग मिलेगी
झारखंड के मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थानों से 10वीं पास करने वालों को सरकार राष्ट्रीय स्तर के इंस्टीट्यूट में इंजीनियरिंग, मेडिकल, लॉ, जनसंचार, फैशन डिजाइनिंग या फैशन टेक्नोलॉजी, होटल मैनेजमेंट, चार्टर्ड अकाउंटेंट या आईसीडब्ल्यूए की फ्री कोचिंग कराएगी। यह योजना अगले वित्तीय वर्ष से शुरू होगी। पहले चरण में 8000 छात्रों का एंट्रेंस टेस्ट से चयन किया जाएगा।

  • कोचिंग के दौरान स्टूडेंट्स को रहने-खाने और पाठ्य पुस्तकों की खरीद के लिए राज्य सरकार हर महीने 2500 रुपए देगी।

झारखंड कैबिनेट – पढ़ाई-ट्रेनिंग से रोजगार दिलाने तक की 4 योजनाएं मंजूर, राष्ट्रपति 15 को लॉन्च करेंगी

1. मुख्यमंत्री सारथी योजना- झारखंड के युवाओं को प्रखंड स्तर तक रोजगारोन्मुखी कौशल प्रशिक्षण देने के लिए यह योजना शुरू की गई है।

2. मुख्यमंत्री शिक्षा प्रोत्साहन- 10वीं पास छात्रों को इंजीनियरिंग से सीए तक की फ्री कोचिंग दी जाएगी। हर माह 2500 रुपए भी दिए जाएंगे।

3. एकलव्य प्रशिक्षण योजना- यूपीएससी, जेपीएससी, बैंक, रेलवे और एसएससी की तैयारी के लिए फ्री कोचिंग की व्यवस्था होगी।

4. गुरुजी क्रेडिट कार्ड योजना- उच्च शिक्षा के लिए स्टूडेंट्स को चार प्रतिशत ब्याज दर पर 15 लाख रुपए का लोन दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp