कानूनी सेवा दिवस पर सिविल कोर्ट में लगाई गई प्रदर्शनी: जिला जज ने कहा- सभी लोगों को सामान और सुलभ न्याय दिलाना ही हमारा उद्देश्य

धनबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
प्रदर्शनी का उद्घाटन करते जिला जज व साथ में अन्य। - Dainik Bhaskar

प्रदर्शनी का उद्घाटन करते जिला जज व साथ में अन्य।

राष्ट्रीय विधिक दिवस के अवसर पर सिविल कोर्ट में नालसा के निर्देश पर प्रायोजित किए गए विभिन्न कार्यक्रमों को प्रदर्शित करने के लिए प्रदर्शनी लगाई गई। प्रदर्शनी में चार स्टाल लगाए गए थे। इसमें विभिन्न तरह के कानूनी जानकारी से संबंधित पुस्तकें, पंपलेट, चित्र लगाई गई थी। इसके द्वारा लोगों को विभिन्न सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के विषय में जानकारी दी जा रही थी। शिविर का उद्घाटन प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश राम शर्मा ने किया।

मौके पर न्यायाधीश ने कहा कि सभी नागरिकों के लिए उचित और निष्पक्ष न्याय प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से हर वर्ष 9 नवंबर को एक कानूनी सेवा दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि 1995 में देश में पहली बार भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा समाज के गरीब और कमज़ोर वर्गों को सहायता प्रदान करने के लिए कानूनी सेवा दिवस शुरू किया गया था। उन्होंने बताया कि शुल्क कानूनी सेवा पाने के हकदार लोगों को सभी तरह की मुफ्त कानूनी सेवाएं प्रदान की जाती है।

इस दिन देश के नागरिकों को कानूनी सेवा प्राधिकरण अधिनियम के तहत विभिन्न प्रावधानों और वादियों के अधिकारों से अवगत कराने हेतु मनाया जाता है। इस दिन प्रत्येक कानूनी क्षेत्र में सहायता शिविर, लोक अदालत और कानूनी सहायता कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इसी कड़ी में आज धनबाद जेल में भी कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
YouTube
Instagram
WhatsApp